Panchatantra stories :कछुआ की कहानी

Panchatantra stories :कछुआ की कहानी-2 new stories:

Panchatantra stories :कछुआ की कहानी बाली इस post पाड़ कछुआ का दो story है। dono stories बहुत अच्छा है। Panchatantra stories :कछुआ की कहानी को जरूर पड़े।


1.चार दोस्त और शिकारी(The four friends and the hunter):

 बहुत  समय पहले, एक जंगल में तीन दोस्त रहता था। बो तीन था एक हिरण(deer), एक कौवा(crow) और एक माउस (mouce)  । सब अपने अपने भोजन को दुसरो के साथ share करता था।


एक दिन, एक कछुए(turtle) उन तीनो के पास आके बोला-

 "मैं भी आप तीनो के साथ रहना चाहती हूं,और आप तीनो का दोस्त भी बनना चाहता हूं।कियुकी मैं यंहा अकेला हूं।"


फिर turtle के ये सब बात सुनके कौवा ने उसको कहा-

 "आपको

Panchatantra stories :कछुआ की कहानी
हमारे group मे wel come करता हूं"। "लेकिन आपके personal safety का केया होगा। आसपास बहुत सारे शिकारी रहते हैं।


Hunters नियमित रूप से इस जंगल पर आते जाते रहते हैं। मान लीजिए, अगर एक शिकारी आता है, तब आप खुद को कैसे save karoge?" 


Crow का बात sunkar turtle ne बोला -

 "यही कारण के लिए ही मैं आपके group में शामिल होना चाहता हूं," 


दोनो का conversation ख़तम होने से पहले ही बहा पार एक शिकारी आ गया था । शिकारी को देखकर, हिरण दूर भागने लगा था ; कौवा आकाश में उड़ गया था और चूहें एक छेद में चला गया था।


Turtle ने तेजीसे बहासे भागने की कोशिश की थी , लेकिन वह शिकारी उसे पकड़ लिया था।


Hunter ने उसे net के अंदर रख दिया था। Hunter हिरण को नेही पकड़ पाया था इसलिए बो बहुत दुखी था। लेकिन फिर  उसने सोचा-

भूखा रहने से अच्छा हे इस कछुआ को खाऊंगा। 


Turtle के तीन दोस्त, हिरण(deer),कौवा(crow) और  माउस (mouce) बहुत दुखी था, क्युकी hunter उसको पकड़ लिया था और बो उसको उसके घर मे ले जारहा था। 


फिर तीनो अपने दोस्त को hunter की जाल से कैसे छुटकारा दिला सकता हे इसके बारेमे सोचने लगा। कौवा तब मिट्टी से बहुत दूर आकाश मे चला गया और शिकारी कहाँ हे वो dhunne लगा।


फिर crow ने hunter को नदी के किनारे के पास से जाते हुये देखा। 


फिर plan के अनुसार हिरण ने छुपके से जाके शिकारी के रास्ते के सामने एक जगह पार शो गया। वो ऐसे लेटा हुआ था जैसा की बो मार चूका हे ।फिर  शिकारी ने हिरण को दूर से देखा,जो जमीन पर पारा हुआ था। 


वह dear को देखके बहुत खुश था। फिर शिकारी ने खुदको बोला -"अब मैं इसके कारण एक अच्छा खाना खा सकूंगा।और बाजार में इसकी सुंदर त्वचा को बेचूंगा"।


उसने turtle को जमीन पर फेक दिया और हिरण को उठाने के लिए भगा।


इस बीच, योजना के अनुसार, चूहे ने नेट अपने sharp teeth के माध्यम से काट दिया और कछुए को मुक्त कर दिया। कछुए जल्दी से nadi के पानी में चला गया था।


शिकारी इन सब चीज से अनजान था, क्योंकि वो हिरन का स्वादिष्ट flesh और सुंदर त्वचा को पाने के लिए बेताब था, इसलिए वो उसको उठाने के लिए भगा था।  


लेकिन,जब उसने deer के पास पौंचा तो उसका मुंह हाँ हो गया।  क्योंकि जब उसने हिरन के पास आगया था और उसे पकड़ ने बाला था ताब अचानक हिरन बहासे उठके जंगल की और भाग गया था । 


इससे पहले कि वह कुछ कर सके, हिरण बहासे बहुत दूर, जंगल के अंदर भाग गया था। निराश,hunter ने कछुए को घर मे ले जाने  के लिए वापस मुड़ा,जिसको उसने जाल के अंदर जमीन पर छोड़ के आया था।


लेकिन वह देखा कछुए गायब हे और net का बहुत सारा टुकड़ा मिट्टी मे पारी हुई है।ये सब देखके hunter चौंक गया था। एक पल के लिए, शिकारी ने सोचा कि, केया वह सपना देख रहा है। 


लेकिन फिर बो समझ चूका था की ये सच है, कियुकी मिट्टी मे पड़ा हुआ net का बहुत सारा  टुकड़ा इसका proof है।


फिर वो सोचने लगा की, सायद कोई mirakel हुआ है। Hunter ये सब घटनाओं के कारण बो बहुत डर गया था था, और जंगल से बाहर भाग गया था।

 चार दोस्तों ने एक बार फिर खुशी से रहने लगा।


ये Panchatantra stories :कछुआ की कहानी post को पड़के निचे दिये गये post को भी पड़े, 

2.बात करने बाला कछुए(The talkative tortoise):


  एक समय की घटना है,Miana और Misa नाम की दो गीज़ और Kamsa नाम की एक कछुए एक नदी के पास रहता था। बो सभी अच्छे दोस्त था ।


एक बार,drought के कारण उस जगह का सभी नदियों, झीलों और तालाब सूख गया था। पक्षियों और जानवरों के पास पीने के लिए पानी का एक  बूंद भी नेही था। 

Baat karne bala kachua ki kahani

बो सभी प्यास से मरने लगा था।तीन दोस्तों ने आपस मे कुछ बात चित किया इस समस्या को समाधान करने के लिए,और फिर पानी की तलाश में बाहर चला गया था।


तीनोने पानी खोजने की बहुत कोशिश की थी लेकिन बहुत कोशिश करने के बाद भी किसीको पानी नेही मिला था।


अब उन तीनो के पास और कोई विकल्प नहीं था, इसलिए तीन दोस्तों ने बहासे कुछ दूर पर एक झील मे जाने का फैसला किया, जो पानी से भरा था, और वो तीन दोस्त अबसे  बहा रहने का फैसला किया।


लेकिन उस जगह मे जानेमे  एक मुश्किल था।कियुकी कछुए (turtle)के लिए पैर के मदत से उस जगह तक जाना बहुत मुश्किल था, कियुकी वो एक धीरे से चलने बाला प्राणी है, जबकि geese के लिए उस दुरी को cover करना आसान था।


तीनो को पानी का प्यास ज्यादा लगने लगा था। अब तीनो बहुत परेशान था उस जगह तक सब कैसे जायेगा। फिर कछुए को एक बहुत अच्छा विचार आया।


 Turtle ने  कहा-

"क्यों ना एक मजबूत छड़ी लिया जाये? मैं छड़ी को मेरे दांतों के मदत से पकड़ के रखूँगा और आप दोनो आपके चोंच के मदत से छड़ी के दोनों end को पकड़ के रखोगे। इस तरह, मैं भी आपके साथ उस झील तक जा सकता हूं।" 


कछुए के इस सुझाव को सुनकर, geese ने उसको बोला-

 "यह एक बहुत अच्छा विचार है।"


फिर geese ने बोला-

 जैसा आप बोलेहैं हम बैसा ही करेंगे। 


फिर turtle को बोला लेकिन आपको बहुत सावधान रहना होगा। 

आपके को लेकर समस्या यह है कि आप बहुत ज्यादा बात करते हो।


अगर आप कुछ कहने के लिए अपना मुंह को खोलोगे, जब हम उड़ रहे होंगे,तो बो आपके लिए बहुत समस्या का कारण हो सकता है। 


 इसलिए, जब हाम छड़ी और upko लेकर आकाश मे urenge  तब आप गलती से भी कोई बात न करें,अगर आप कोई भी बात करने जाओगे तो आप आपके पकड़ को खो देंगे और आप जमीन पर गिरकर मर जाओगे । "


कछुए ने geese की ये बात को समझा और पूरी यात्रा के दौरान अपना मुंह नहीं खोलने का वादा किया।उसके bada करने के बाद   geese ने छड़ी को अपने चोंच में पकड़के रखाथा,और कछुए ने छड़ी को अपने दाँतों के बीच में पकड़के रखा था।


और इस तरह, तीनो अपने लंबी यात्रा को शुरू की थी झील तक पोंछने के लिए और फिर बहा रहने के लिए ।


 ऐसा करके बो पहाड़ियों, घाटियों, गांवों, जंगलों पार करके आखिरकार एक शहर के ऊपर आगया था।इतनी दुरी ताक आने से पहले सबकुछ ठीक था, turtle सेहीसे आरहा था, वो एक भी बात नेही कराथा।


लेकिन जब बो शहर मे आगया था और bahape आकाश मे उड़ रहा था,उस शहर का सब  पुरुष, महिलाएं और बच्चे इस अजीब दृश्य को देखने के लिए अपने घरों से बाहर आ गया था।  


बच्चे इस चीज को देखने के बाद चीखने-चिल्लाने लगा था।मुर्ख कछुआ बहुत उत्साहित हो गया था निचे केया हो रहा है इसको देखने के लिए।


मूर्ख कछुआ तब भूल गया था की बो एक छारी को अपने दांत मे पाकर कर, दो दोस्त की मदत से आकाश मे से जारहा है।


फिर वह निचे sablok कियु ताली मार रहाहे उसके कारण जानने के लिए अपने दोस्तों को पूछने के लिए अपना मुंह खोल दिया- "दोस्तों, यह सब क्या हो रहाहै?"


ये पूँछ ने के लिए तब उसका बात ख़तम होने से पहले ही बो छड़ी से निचे गिर गया था। कियुकी बो छड़ी पर अपना पकड़ खो दीया था और बो जमीन पर गिर गया था।और फिर जमीन पर गिरने के कारण तुरंत मर गया था। 


कछुआ को निचे देखकर sablok बहुत खुश हो गया था, और बो कछुआ बहा गिरा था बहा dourke गया उसे देखने के लिए।दूसरी तरफ कछुआ का दो दोस्त बहुत दुखी था अपने दोस्त को खोने के कारण।


वो दोनो अपसोस करने लगा और बोलने लगा हाम उसको इतनी बार माना करने के बाद भी वो अपना मुँह खोल दिया… !


अगर आपको ये Panchatantra stories :कछुआ की कहानी pasand आया है तो please post को अपने दोस्तों को share kare aur ऐसा Panchatantra stories :कछुआ की कहानी padne ke लिये इस site पर जरूर visit करें।

Post a Comment

Please do not enter any spam link and bad messages in the comment box.

नया पेज पुराने